रिश्तों में खुलकर जियें उन लम्हों को (live those moments openly)

0
707
live those moments openly

टेँशन दुख और परेशानियां तो हर किसी की ज़िदगी में है, लेकिन इसका ये मतलब तो नहीं कि हम ख़ुश रहना ही भूल जाएं. ज़िंदगी में कई ऐसे पल आतें हैं जो हमें ख़ुशी देते हैं, मगर उस वक़्त हम उसे छोड़कर कुछ और सोचने लगते हैं और खुशी के उस लम्हें से महरूम रह जाते हैं. अपनी मैरिड लाइफ को हेल्थी और हैप्पी रखना चाहते हैं, तो इन लम्हों को खुलकर जिएं.

live those moments openly

बेड पर जब हों साथ

पार्टनर आपके साथ रोमांटिक होने की कोशिश कर रहा है और आप किचन या ऑफिस की फाइलों में ही ग़ुम हैं. अब बताई भला ये भी कोई बात हुई. हर चीज़ का एक समय होता है और ये टाइम तो लव-रोमांस का है, इसमें कहां आप किचन की सब्ज़ियों और ऑफिस की फाइलों को घुसाकर पार्टनर का मूड ख़राब कर रहीं हैं. बेहतर होगा अपनी सारी टेंशन बेडरूम के बाहर छोड़ दें और इन खास पलों को एन्जॉय करें. इससे आप दोनों को नज़दीकियों का एहसास होगा, वरना दिनभर तो आप दोनों अपने में ही बिज़ी रहते हैं.

कोई अचिवमेंट जब वो करें शेयर

पार्टनर को प्रमोशन मिला हो या ऑफिस में सबके सामने बॉस ने उनकी तारीफ़ों के पुल बांधें हों, इस तरह कि अचीवमेंट्स जब भी वो आपसे शेयर करें, तो न सिर्फ़ उन्हें मोटीवेट करें, बल्कि इन उपनाब्धियों को सेलिब्रेट भी करें. इनके बहाने ज़िंदगी ने ख़ुशी तलाशें. पार्टनर को सरप्राइज गिफ्ट दें या डिनर डेट पर ले जाएं. उन्हें अच्छा लगेग और अपनी छोटी-सी अचीवमेंट भी उन्हें बड़ी लगने लगेगी.

live those moments openly

जब हों वेकेशन पर

मूड फ्रेश करने के लिए आपने वेकेशन प्लान कर तो लिया लेकिन वहां भी पार्टनर अपना लैपटॉप साथ ले गए ताकि कोई इंपॉर्टेंट काम मिस न हो जाए. भला ये कैसा वेकेशन? छुट्टियों का मतलब होता है, नो वर्क ओनली एंजॉयमेंट, तो अपना फोन और लैपटॉप साइड में रखिए और पार्टनर के साथ जमकर मस्ती करिए. भूल जाइए कि आपका कोई घर या ऑफिस है बस एक-दूसरे को याद रखिए.

जब छुट्टी के दिन वो बन जाएं किचन किंग

कभी-कभार आपको ख़ुश करने के लिए या अपनी कुकिंग स्किल दिखाने के लिए जब वो किचन का रुख़ करें, तो उन्हें रोकें नहीं. किचन गंदा जाएगा कि चिंता किए बिना उन्हें कुकिंग में हाथ आज़माने दें. जब वो प्यार से आपके लिए कुछ बनाएं, तो मुस्कुराकर उन्हें बस देखिए, टोकिए नहीं और उस पल का मज़ा लीजिए, क्योंकि एक दिन के लिए ही सही उन्होंने आपको किचन से छुट्टी तो दे दी. उनकी बनाई डिश, भले ही वो ख़राब ही क्यों न हो, दिल से तारीफ़ करें.

live those moment openly
Image Source
टीवी टाइम

यदि समय मिले तो दोनों साथ में कोई टीवी प्रोग्राम का मज़ा लें और दिनभर की थकान और ऑफिस के स्ट्रेस को भूलकर बस उस पल को एंजॉय करें. यदि कभी पार्टनर क्रिकेट मैच देख रहे हैं, तो उनके हाथ से रिमोट लेने की बजाय आप भी कुछ देर के लिए साथ बैठकर मैच का लुत्फ़ उठाइए. इसी तरह यदि पत्नी कभी कोई प्रोग्राम देख रही है, तो उससे बिना पूछे चैनल चेंज़ न करें, बल्कि थोड़ी देर के लिए आप भी उनके साथ बैठ जाएं.