अपनी मॉर्निंग को बनाना चाहते हैं गुड तो बचें इन 6 ग़लतियों से  (For Happy Morning Avoid These 6 Mistakes)

0
688
For Happy Morning Avoid These 6 Mistakes

प अपनी सुबह की शुरुआत किस तरह करती हैं या बात बहुत मायने रखती है. सुबह बिस्तर से उठने से लेकर किचन में जाने तक का आपका रूटीन ये तय करता है कि आपका पूरा दिन कैसा गुज़रेगा.  लोग सुबह उठने के बाद रिलैक्स होकर सिस्टमैटिक ढंग से काम करते हैं, उनका दिन भी अच्छा गुज़रता है. वैसे जाने-अनजाने हम सब सुबह कुछ ऐसी ग़लतियां कर बैठते हैं जिससे हमारा मूड और दिन ख़राब हो जाता है, तो आप अगर चाहती हैं कि आपकी मॉर्निंग गुड हो और पूरा दिन सुकून से बीते तो सुबह इन 6 ग़लतियों से बचना ज़रूरी है.

छोड़ दें बेड टी की आदत

कुछ लोगों की आदत होती है कि चाय का घूंट भरे बिना बिस्तर से नीचे क़दम नहीं रखते. सुबह-सुबह चाय या कॉफी पीना अच्छी आदत नहीं है, इससे आप दिनभर एसिटिडी से परेशान रह सकती हैं. बेहतर होगा कि सुबह उठने के बाद 2-3 ग्लास गुनगुना पानी पीएं. आप चाहें तो पानी में नींबू भी निचोड़कर पी सकती हैं, इससे फ्रेश फील होगा.

जिम के लिए रवाना होना

सुबह उठने पर आपकी मांसपेशियों को रिलैक्स होने में थोड़ा समय लगता है. ऐसे में बिस्तर से उठते ही तुरंत जिम के लिए भागना सही नहीं है. माना कि आप फिटनेस फ्रीक हैं, मगर उठते ही जिम जाने की आदत ठीक नहीं हैं. अच्छा होगा कि उठने के बाद 5-10 मिनट बिस्तर पर ही सोकर बॉडी को स्ट्रेच करें फिर मेडिटेशन या योगा करें.

उठते ही फोन पर बिज़ी होना

आजकल स्मार्टफोन हमारी ज़िंदगी का ऐसा हिस्सा बन गया है जिसके बिना हम एक पल भी रहने की नहीं सोच सकते. एक दिन अगर घर पर फोन भूल जाओ तो हम ख़ुद को हेल्पलेस फील करने लगते हैं, मगर क्या आप जानती हैं कि सुबह उठते ही फोन पर मेल या सोशल साइट्स चेक करना अच्छी आदत नहीं है. सुबह उठने के बाद अपनी एनर्जी को पॉज़िटीव चीज़ों में लगाएं.

यह भी पढ़ेंः वर्किंग वुमन कैसे करें टाइम मैनेजमेंट ताकि हर काम हो जाए आसान

For Happy Morning Avoid These 6 Mistakes

ब्रेकफास्ट स्किप करना

अक्सर वर्किंग वुमन ऐसा करती हैं, जल्दी-जल्दी घर के काम निपटाकर बिना कुछ खाएं ही ऑफिस के लिए निकल जाती हैं. सुबह का ब्रेकफास्ट हेल्दी रहने के लिए बहुत ज़रूरी है. अगर आप ये सोचती हैं कि चलो ब्रेकफास्ट न करने से आपको मोटापा कम हो जाएगा, तो आप बिल्कुल ग़लत हैं, ब्रेकफास्ट स्किप करने से वज़न घटने की बजाय बढ़ता है. साथ ही डायबिटीज़ का ख़तरा भी बढ़ जाता है और इम्यून सिस्टम भी कमज़ोर होने लगता है. इसके अलावा सुबह ब्रेकफास्ट न करने पर ऑफिस पहुंचते ही आपको भूख लग जाती है और आप फिर बाहर का अनहेल्दी फूड खाकर अपनी सेहत बिगाड़ लेती हैं, इससे आपका एनर्जी लेवल भी कम रहता है. बेहतर होगा कि सुबह हेल्दी ब्रेकफास्ट करें. कुछ बना नहीं सकती, तो ओट्स, कॉर्नफ्लेक्स, फ्रूट, फ्रूट जूस आदि पीएं.

पहले से प्लानिंग न करना

सुबह नाश्ते में क्या बनेगा या सुबह कौन से कपड़े पहनकर जाने हैं? जैसी चीज़ें रात को डिसाइड कर लेनी चाहिए, वरना सुबह इन बारे में सोचने में ही बहुत टाइम वेस्ट हो जाता है और फिर आपको हड़बड़ी में सारे काम करने पड़ते हैं, नतीजतन आप चिड़चिड़ी हो जाती हैं. पहले से प्लानिंग न करने पर सुबह आपको ख़ुद को रिलैक्स करने का भी व़क्त नहीं मिलता, जिससे पूरा दिन आप फ्रेश और एनर्जेटिक फील नहीं करतीं. अच्छा होगा कि सुबह के ब्रेकफास्ट में बनाने वाली सब्ज़ी रात को ही काटकर फ्रिज में रख दें और अपने ऑफिस जानेवाले कपड़े भी निकालकर रख लें.

For Happy Morning Avoid These 6 Mistakes

यह भी पढ़ेंः मूड को रखना है हैप्पी तो खाएं ये 7 फूड

अलार्म बजने के बाद भी सोए रहना

सुबह की नींद बहुत मीठी लगती है, अक्सर लोग सुबह का अलार्म बजने के बाद ये सोचकर उसे बंद कर देत हैं कि बस 5 मिनट और सो लूं, मगर इस 5 मिनट के चक्कर में सब गड़बड़ हो जाता है. आपके साथ भी ऐसा हुआ होगा, जब 5 मिनट सोने के लालच में आपकी नींद बहुत लेट खुलती है और फिर आपको समझ नहीं आता कि कौन-सा काम पहले करें और कौन-सा बाद में. हड़बड़ाहट में काम करने से काम को बिगड़ता ही है, सुबह-सुबह आपका मूड भी ख़राब हो जाता है और इसका असर पूरे दिन रहता है, आप अगर अपनी मॉर्निंग को गुड बनाना चाहती हैं, तो आलस छोड़कर सुबह जल्दी उठें.

क्या कहती है रिसर्च?

आपने बड़े-बुज़र्गों को भी कहते सुना होगा कि सुबह जल्दी उठने से दिन अच्छा गुज़रता है और अब नई रिसर्च में भी इस बात की पुष्टि हो गई है कि सुबह जल्दी उठने वाले लोग न सिर्फ़ लेट उठने वालों से हेल्दी रहते हैं, बल्कि काम के मामले में भी उनसे आगे रहते हैं. अपने दिन की शुरुआत सूर्योदय के साथ करने वाले लोग अन्य लोगों के मुकाबले मेंटली और फिज़िकली मानसिक ज़्यादा फिट रहते हैं और वो बिना किसी रुकावट के अपना काम कर पाते हैं. सुबह ज्ली उठने के कारण उनके पास अपने लिए काफ़ी समय होता है जिससे वो अपनी पंसद का काम पहले कर सकते हैं, आराम से एक्सरसाइज़ कर सकते हैं आदि.

अधिक Health Articles के लिए यहां क्लिक करें: HEALTH ARTICLES