महिलाओं पर फोकस करतीं इन वेबसीरीज में दिख रहा ज़िंदगी का असली रंग

0
360

आमतौर पर फिल्मों में हीरोइनों को करने के लिए ज़्यादा कुछ नहीं रहता, क्योंकि कहानी तो केंद्रित रहती है हीरो पर। कुछ अपवादों को छोड़ दिया जाए तो महिलाओं की आम समस्याएं, ज़िंदगी की उलझनों और संघर्ष को फिल्मों या टीवी शो में नहीं दिखाया जाता, लेकिन पिछले कुछ समय से यह काम वेबसीरीज में हो रहा है। 2018 में कई ऐसी वेबसीरीज आईं जिनका पूरा फोकस महिलाओं पर रहा। इन वेबसीरीज का पूरा कंटेंट महिलाओं पर ही आधारित था और उनकी दिलचस्प कहानी दिखी।

एडल्टिंग

डाइस मीडिया की वेबसीरीज़ एडल्टिंग में 20 साल की दो ऐसी लड़कियों की कहानी थी जो आत्मनिर्भर बनकर अपनी ज़िम्मेदारियां उठाने की कोशिश करती हैं। मुंबई शहर इन दो लड़कियों के रूप में इस उम्र की लड़कियों की समस्याएं जैसे पैसों की व्यवस्था, सोशल मीडिया, माता-पिता की उम्मीदें, करियर को लेकर उलझन आदि को बखूबी दिखाया गया। इतना ही नहीं इस वेबसीरीज की एक खास बात यह भी थी कि इसमें राइटर, डायरेक्टर और प्रोड्यसूर से लेकर पूरी टीम ही महिलाओं की थी।

इट्स नॉट दैट सिंपल सीज़न 2

बोल्ड एंड ब्यूटीफुल स्वरा भास्कर की वेबसीरीज इट्स नॉट दैट सिंपल का दूसरी सीजन भी आ चुका है। इस वेबसीरीज में स्वरा भास्कर तलाकशुदा सिंगल मदर के रूप में रूढ़ीवादी समाज से लड़ती हैं। वह एक मां, करियर ओरिंएंटेट वुमन के बीच बैलेंस बनाने की कोशिश के साथ ही दोबारा प्यार की तलाश करती हैं। महिलाओं का ये रूप अमूमन फिल्म और धारावाहिकों में नहीं दिखता। एक तलाकशुदा मां को अकेले बच्चे की परवरिश अपने करियर बनाने के लिए कैसी चुनौतियों का सामना करना पड़ता है वेबसीरीज में दिखाया गया है।

गर्ल इन द सिटी

इस वेबसीरीज में देहरादून की लड़की मीरा की कहानी है, जो मुंबई आती है अपने सपनों को पूरा करने। सक्सेसफुल फैशन डिज़ाइनर बनने के सपने को पूरा करने के लिए मीरा को जो संघर्ष करना पड़ता है, शो में बखूबी दिखाया है। इस बेवसीरीज के 2 सीजन पहले ही आ चुके हैं और तीसरा सीजन भी लोगों को पसंद आ रहा है।

 लव लस्ट कन्फ्यूज़न

यंगस्टर्स के लव, लस्ट और कन्फ्यूज़न की असली कहानी बयां करती है यह वेबसीरीज। इसमें कन्फ्यूज्ड़ युवा पीढ़ी की कहानी है जो प्यार और अपनी इच्छाओं के बीच फंसा हुआ है, उसे नहीं पता कि ज़िंदगी में उसे आगे क्या करना है। कहानी पूजा सरकार नाम की एक लड़की के इर्द-गिर्द घूमती है।

देवडीडी

आल्ट बालाजी की यह वेबसीरीज एक ऐसी मॉर्डन महिला के बारे में हो जो भारतीय महिलाओं की स्टीरियोटाइप इमेज को तोड़ने की कोशिश करती है। इस वेबसीरीज में अशीमा वरदान, अखिल कपूर, संजय सूरी, रश्मि अगडेकर, रुमाना ला, संदीप पांडे आदि कलाकार हैं। इस वेबसीरीज में उन मुद्दों को उठाया गया है जिस पर समाज बात करने से कतराता है।

सास बहू सीरियल्स से अलग इन वेबसीरीज में महिलाओं की असल समस्या और ज़िंदगी पर फोकस किया गया है।